जालसाजों के निशाने पर हरिदेव जोशी पत्रकारिता विश्वविद्यालय, कानूनी कार्रवाई की तैयारी


जयपुर। राजस्थान सरकार की ओर से स्थापित हरिदेव जोशी पत्रकारिता विश्वविद्यालय पर जालसाजों ने गहरी नजरें जमा ली हैं। इस पत्रकारिता विश्वविद्यालय के नाम पर पूरी तरह जाली वेबसाइट (www.haridevjoshiuniversity.com) और उस पर बीए, एलएलबी, डी.फार्मा, एमबीबीएस, एमडी, एम.टेक, पीएच.डी समेत करीब दो दर्जन से ज्यादा डिप्लोमा व डिग्री कोर्स करवाए जाने का झांसा दिया जा रहा है। शुरुआती पड़ताल में इस फर्जी वेबसाइ को पंजाब से चलाया जाना बताया जा रहा है।

असल में हरिदेव जोशी पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति व वरिष्ठ पत्रकार ओम थानवी के संज्ञान यह मामला आते ही पत्रकारिता जगत में हलचल मच गई है। जहां एक ओर पत्रकार दुनियाभर के मामले उजागर कर रहे हैं, वहीं पत्रकारिता विश्वविद्यालय के नाम पर इस बड़ी धोखाधड़ी का सामने आना दुर्भाग्यपूर्ण है। कुलपति ओम थानवी के मुताबिक, 'पंजाब में फर्जी डिग्रियों का गोरखधंधा बड़े पैमाने पर चलता है। हमें कुछ दिनों पहले चण्डीगढ़ से सटे मोहाली से एक कंपनी का पत्र मिला था जिसमें नौकरी मांगने आए एक युवक द्वारा प्रस्तुत हरिदेव जोशी पत्रकारिता विश्वविद्यालय, जयपुर के नाम पर एमबीए फाइनेंस की कथित डिग्री और प्रमाण पत्रों तथा अंक-तालिकाओं की पुष्टि चाही थी। यह दस्तावेज फर्जी थे। जिसके बारे में सूचना कंपनी को दे दी गई थी।'

गौरतलब है कि संभवताया पंजाब से किए जा रहे इस फर्जीवाड़े में लिप्त जालसाजों ने हरिदेव जोशी विश्वविद्यालय, जयपुर के नाम पर ही फर्जी डिग्री प्रकाशित करवाकर बांटना शुरू कर दिया है। डिग्री पर बारकोड और दूसरी कई जानकारियां बेहद फर्जी तरीके से चस्पा की गई हैं। इस वेबसाइट के जरिए लोगों को बरगलाने के प्रयास में ही विश्वविद्यालय की स्थापना 25 साल पहले 1996 बताई गई है। इधर जयपुर में हरिदेव जोशी विश्वविद्यालय प्रशासन और कुलपति ओम थानवी ने मामला दर्ज करवाने और कड़ी कानूनी कार्रवाई की बात कही है।
Share on Google Plus

About ITS INDIA

0 टिप्पणियाँ:

टिप्पणी पोस्ट करें